जापान में फिर से आयी बड़ी तबाही, लोग हुए बेघर

Ashutosh Jha
0


जापान को एक बार फिर प्रकृति की मार झेलनी पड़ रही है। जापान में आये भयानक तूफ़ान और बारिश के कारण कई लोग अपने घर से बेघर हो गए है। जापान में बेहद शक्तिशाली तूफान हगिबीस ने दस्तक दे दी है और इसकी वजह से एक शख्स की जान भी जा रही है। जापान सरकार ने इससे निपटने के लिए पुख्ता बंदोस्त किए हैं और काफी पहले से एडवाइजरी जारी की गई है। साथ ही तूफान की वजह से कई इलाकों में भारी बारिश और भूस्खलन भी आया है।


हगीबीस को जापान में अब तक का सबसे शक्तिशाली तूफान माना जा रहा है क्योंकि इससे देश के प्रमुख द्वीप होशू में भूस्खलन की आशंका जताई जा रही है। सार्वजनिक प्रसारक एनएचके की रिपोर्ट के मुताबिक, होशू द्वीप के शहर चिबा में इसका उपद्रव जारी है जहां हवा के तेज झोंकों के कारण यहां के कई घरों की छतें उड़ गईं जिससे कई लोग घायल हो गए हैं। इसके अलावा तीन लोगों को लापता होने की भी रिपोर्ट है।


मौसम विभाग की माने तो अब यह तूफान होशू की ओर से प्रशांत महासागर के ऊपर से उत्तरी क्षेत्र की ओर बढ़ रहा है। हागिबिस वर्ष 1958 में कान्टो और इजू क्षेत्र में तबाही मचाकर 1,200 से अधिक लोगों की जान लेने वाली तूफान की बराबरी कर सकती है। एजेंसी ने टोक्यो, इजू और शिलुओका प्रांत में भूस्खलन के लिए एक आपातकालीन चेतावनी जारी की है। एजेंसी ने शनिवार को पूरे दिन बारिश होने के साथ बाढ़ और भूस्खलन के होने का अनुमान जताया है।


एफे न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, जापान सरकार ने इसका सामना करने के उपायों के लिए तुरंत ही बैठक बुलाई है और मध्य, दक्षिण व पश्चिमी जापान के निवासियों को इस पूरे सप्ताह सतर्क रहने की सलाह दी है। जापान के दो बड़े लाइनों एनए और जेएएल ने दो हवाई अड्डों (हनेडा और नरीता) से निर्धारित सभी घरेलू उड़ानों और ओसाका व चुबू के बीच कुछ उड़ानों को रद्द कर दिया है। सेंट्रल जापान रेलवे कंपनी ने शुक्रवार को ऐलान किया कि टोक्यो और नागोया के बीच शिनकानसेन बुलेट ट्रेन सेवाओं को निलंबित कर दिया गया है


हागिबिस के चलते शनिवार को होने वाली दो रग्बी विश्व कप खेल भी रद्द हो गया है और इससे सुजुका में इस वीकेंड का ग्रैंड प्रीक्स भी प्रभावित हो सकता है। तूफान में लगभग 216 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से तेज हवाएं चल रही हैं। इस के कारण टोक्यो में समुद्र के किनारे खड़ी एक कार तूफान की चपेट में आ गई और उसके ड्राइवर की मौत हो गई।


जेएमए के फोरकास्टर यासुशी काजीवारा ने संवाददाताओं को बताया, "शहरों, कस्बों और गांवों में भारी बारिश देखी गई है, जिसके लिए आपातकालीन चेतावनी जारी की गई थी।" "संभावना बहुत अधिक है कि भूस्खलन और बाढ़ जैसी आपदाएं पहले ही हो चुकी हैं। कार्रवाई करना महत्वपूर्ण है जो आपके जीवन को बचाने में मदद कर सकता है।" कम से कम दो भूस्खलन की पुष्टि पहले ही हो चुकी थी, टोक्यो के उत्तर में गुनमा प्रान्त में तीन लोगों के लापता होने के बाद एक भूस्खलन ने कई घरों को तबाह कर दिया।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.
एक टिप्पणी भेजें (0)

#buttons=(Accepted !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !
To Top