Type Here to Get Search Results !

अंकित शर्मा की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के अनुसार अमित शाह लोकसभा में झूठ बोल गए!-निजी मीडिया

0




देश के गृह मंत्री अमित शाह के अंदर दिल्ली पुलिस और खुफिया विभाग काम करती है। पिछले हफ्ते 11 मार्च 2020 को लोकसभा में गृह मंत्री अमित शाह  ने बयान दिया की दिल्ली दंगे में मारे गए IB के कर्मचारी अंकित शर्मा को 400 बार चाकुओं से मारा गया। और आपको बता दे की ये बयान लोकसभा में रिकॉर्ड में है। लेकिन पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के इस कागज़ की मानें तो अमित शाह लोकसभा में गलत बयान दे गए।  पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट कहती है कि अंकित शर्मा को चाकू से 13 बार मारा गया। और उनके जिस्म पर कुल 51 घाव मिले। 


‘दी लल्लनटॉप’ मीडिया के अनुसार अंकित शर्मा की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट  से अंकित शर्मा की मौत के बारे में बहुत सारे ब्यौरे पता चले है। इन्हें देखने पर पता चलता है कि अंकित शर्मा को बेरहमी से मारा गया था।  उनके शरीर पर जांघ, कूल्हे, पीठ, कंधे, सीने, हाथ समेत कई जगहों पर चाकू से घोंपने के निशान भी मिले हैं। और कई दूसरे तरह के घाव भी मिले है। इस पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में दी लल्लनटॉप मीडिया के अनुसार जो मिला, वो हम आपको बता रहे हैं। कुछ विवरण असहज हो सकते हैं, पाठकों से विवेक अपेक्षित है। 


ये है पोस्टमॉर्टम की कहानी


27 फरवरी 2020 को दोपहर 12:25 बजे अंकित शर्मा का शव दिल्ली के गुरु तेग बहादुर अस्पताल के पोस्टमॉर्टम हाउस में लाया गया। इसी दिन 12:30 बजे पर अंकित शर्मा के शव का पोस्टमॉर्टम शुरू हो गया। जो पूरे दो घंटे यानी 2:30 बजे तक चला था। 


ये पोस्टमॉर्टम डॉ. केके बनर्जी, डॉ. एसके वर्मा और डॉ. अरविन्द कुमार की अगुआई में पोस्टमॉर्टम किया गया। इस मामले के जांच अधिकारी ASI राजेंदर, थाना दयालपुर को पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट सौंप दी गयी। 


दी लल्लनटॉप मीडिया के अनुसार उन्होंने कहा है की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट कहती है कि अंकित शर्मा को चाकू से 13 बार मारा गया। और उनके जिस्म पर कुल 51 घाव मिले। 


कहां से निकली 400 घावों की बात


इंटरनेट की मानें तो अंकित शर्मा के शरीर पर 400 घाव होने की बात सबसे पहले एक टीवी चैनल की स्ट्रटीजिक अफ़ेयर्स संपादक-पत्रकार द्वारा 27 फ़रवरी को रात 10 बजे के आसपास किए गए ट्वीट से सामने आयी। दिल्ली पुलिस के सूत्रों के हवालों से पत्रकार ने कहा कि अंकित शर्मा की पोस्ट्मॉर्टम रिपोर्ट में पाया गया है कि उसे 400 बार चाकू से घाव दिया गया है। 


इसके बाद अगली सुबह देश के कई समाचार चैनलों ने अंकित शर्मा को 400 बार चाकूके घावों का ज़िक्र अपनी ख़बरों में किया। सबके पीछे दिल्ली पुलिस के सूत्र थे। अब तक कहीं असल पोस्ट्मॉर्टम रिपोर्ट का हवाला नहीं था। 


बात ख़बरों और पत्रकारों पर ही नहीं रुकी। भाजपा के कई नेताओं ने अंकित शर्मा के शरीर पर 400 घावों का हवाला दिया। गृहमंत्री अमित शाह की बात तो हमने बता दी। नई दिल्ली लोकसभा से सांसद मीनाक्षी लेखी, जो पेशे से सुप्रीम कोर्ट की वक़ील भी हैं, ने भी लोकसभा में अंकित शर्मा के शरीर पर 400 घावों का हवाला दिया। राज्यसभा सांसद और भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने भी राज्यसभा में ही अंकित शर्मा को 400 घावों वाले बयान का हवाला दिया.


तो क्या दिल्ली पुलिस ने झूठ कहा?


ऐसा सफ़ाई से नहीं कह सकते। क्यों? क्योंकि दिल्ली पुलिस के अधिकारियों और प्रवक्ताओं ने आधिकारिक रूप से कहीं भी ये बयान नहीं दिया है कि अंकित शर्मा के शरीर पर 400 घाव मिले थे। जहां भी ऐसी बातें सामने आयीं, उनके पीछे कोई काग़ज़ नहीं था। बस सूत्र थे।  ऐसे में ये बिलकुल संभव है कि या तो सूत्रों को सही जानकारी नहीं थी, या सूत्रों ने जानबूझकर ग़लत जानकारी मुहैया करायी। लेकिन बात गृहमंत्री तक जाती है। उन्होंने ख़ुद ये दावा लोकसभा में किया था। ऐसे में उनके अधीन काम करने वाली दिल्ली पुलिस और ख़ुफ़िया विभाग पर सवाल उठते हैं कि क्या अंकित शर्मा की मृत्यु पर अमित शाह को झूठी या ग़लत जानकारी दी गयी? और सवाल ये भी कि क्या अमित शाह ने बिना पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के हवाले से लोकसभा में अमुक बयान दे दिया?


घाव 13 हो या 400 अमानवीय है  


घाव 13 भी यही बताते है की ये हरकत अमानवीय है। और जिसने भी ये हरकत की है उन पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए चाहिए।  


 


(सोर्स: दी लल्लनटॉप) 


 


 


 






Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad