हो सकता है इन कारणों से रोहित शर्मा टेस्ट कप्तान न बने

NCI
0

 
आखिर क्या कारण हो सकते है जिनकी वजह से रोहित शर्मा टेस्ट कप्तान न बने?
1. अब और 2023 के अंत के बीच उनका प्राथमिक कार्य भारत को टी20 और एकदिवसीय विश्व कप में अच्छा प्रदर्शन करने में मदद करना है।
2. उम्र - वह इस अप्रैल में 35 वर्ष के हो जाएंगे, यानी अप्रैल 2024 तक 37 वर्ष के हो जाएंगे।
3. नया कप्तान दीर्घकालीन होना चाहिए।
4. टेस्ट बल्लेबाज के रूप में करने के लिए और भी बहुत कुछ है। 
आपको बता दें की रोहित, जो दक्षिण अफ्रीका के दौरे के लिए नामित टेस्ट उप-कप्तान भी थे, टीम के दौरे पर जाने से ठीक पहले नेट सत्र के दौरान बाएं हैमस्ट्रिंग में खिंचाव आया और उन्हें बाहर होना पड़ा।
5.  टेस्ट की कप्तानी को लेकर उन्होंने अभी कोई अपना बयान नहीं दिया।
 
विराट कोहली की टेस्ट क्रिकेट की कप्तानी छोड़ने के बाद सभी में नए कप्तान का नाम जानने की उत्सुकता है। ट्विटर पर किये गए ओपिनियन पोल में जिसमे चार खिलाड़ी रोहित शर्मा, ऋषभ पंत, के एल राहुल और आश्विन को शामिल किया गया था में सबसे ज्यादा रोहित शर्मा को वोट मिले। 
 
इतना ही नहीं आप ये जानकार हैरान होंगे की ऋषभ पंत को के एल राहुल से ज्यादा वोट मिले। आश्विन को सबसे कम वोट मिले। 
 
जसप्रीत  बुमराह का भी नाम कप्तान के लिए सामने आ रहा है जब उनसे पूछा गया की क्या आप कप्तान बनेंगे? इस पर बुमराह बोलते हैं की अगर मुझे ये जिम्मेदारी दी मेरे लिए गर्व की बात होगी और ये ऐसी चीज़ है जिसे कोई न नहीं कहेगा और मै सबसे अलग नहीं हूँ।
 
हर्षा भोगले ट्विटर पर लिखतें है "मेरे विचार से कप्तानी के चार विकल्प हैं, जो खराब स्थिति नहीं है। रोहित शर्मा और केएल राहुल की चर्चा ज्यादा है। लेकिन अश्विन और बुमराह में दो अच्छे विचारक भी जरूरत पड़ने पर टीम में रहते हैं। मोहम्मद अज़रुद्दीन ने कहा की रोहित शर्मा टेस्ट टीम की कप्तानी  कर सकते है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.
एक टिप्पणी भेजें (0)

#buttons=(Accepted !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !
To Top